Sunday, January 29, 2023
Homeटेक्नोलॉजीISRO: इसरो की बड़ी कमाई, सिर्फ 5 साल में 19 देशों के...

ISRO: इसरो की बड़ी कमाई, सिर्फ 5 साल में 19 देशों के 177 सैटेलाइट लॉन्च किए

ISRO: ISRO's big earnings, launched 177 satellites from 19 countries in just 5 years

- Advertisement -

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अग्रणी संगठनों में से एक के रूप में जाना जाता है।

इसरो एक सरकार नियंत्रित संगठन है। मंगलयान और चंद्रयान जैसे मिशनों के कारण दुनिया में ISTRO का नाम सम्मान है और ISTRO को परिष्कृत उपग्रहों के निर्माण करने वाली संस्था के रूप में भी जाना जाता है। इतना ही नहीं, इसरो ने दुनिया के सबसे सस्ते उपग्रह प्रक्षेपण संगठन के रूप में एक और अलग पहचान भी बनाई है।

- Advertisement -

कभी दूसरे देशों की मदद से अपने सैटेलाइट बनाने और उन्हें अंतरिक्ष में भेजने के लिए खुद की मदद लेने वाला इसरो आज सिर्फ अपने ही नहीं बल्कि दूसरे देशों के सैटेलाइट को भी अंतरिक्ष में भेज रहा है।

ISRO: इसरो की बड़ी कमाई, सिर्फ 5 साल में 19 देशों के 177 सैटेलाइट लॉन्च किए

पिछले कुछ वर्षों में, दुनिया भर के अन्य देश, विश्वविद्यालय और अनुसंधान संस्थान अपने उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजने के लिए भारत के इसरो के साथ लाइन में लगे हैं। इसलिए इसरो अब ऐसे उपग्रहों को प्रक्षेपित करके, उन्हें सटीक रूप से अंतरिक्ष में भेजकर अच्छी कमाई करने लगा है।

- Advertisement -

जनवरी 2018 से नवंबर 2022 तक पांच साल में 19 देशों और विभिन्न संगठनों के 177 उपग्रह लॉन्च किए गए हैं। इसने 94 मिलियन डॉलर और 46 मिलियन यूरो कमाए हैं। यानी कुल 1,100 करोड़ रुपए की कमाई हुई है।

पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, कोलंबिया, फिनलैंड, फ्रांस, इजरायल, इटली, जापान, लिथुआनिया, लक्समबर्ग, मलेशिया, नीदरलैंड, कोरिया गणराज्य, सिंगापुर, स्पेन, स्विट्जरलैंड, इंग्लैंड, अमेरिका या इन देशों के विभिन्न संगठनों के उपग्रह पांच साल इसरो ने अंतरिक्ष में लॉन्च किया है।

- Advertisement -

दो साल पहले भारत ने स्पेस टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में अपनी रणनीति बदली थी। देश में निजी संगठनों को उपग्रह निर्माण, प्रक्षेपण के लिए रॉकेट निर्माण और इस क्षेत्र से जुड़े विभिन्न उपकरणों के निर्माण की अनुमति देने के लिए नियमों में बदलाव किया गया है। यही वजह है कि पिछले महीने एक निजी संस्था ने अपने दम पर रॉकेट बनाकर एक सैटेलाइट लॉन्च किया। साथ ही इसरो ने हल्के वजन के उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजने के लिए एक नया लॉन्चर विकसित किया है।

- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharmahttps://shubham.khabarsatta.com
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments