Home देश Good News : Covid Shield वैक्सीन का भारत में शुरू हो सकता है Trail

Good News : Covid Shield वैक्सीन का भारत में शुरू हो सकता है Trail

नई दिल्ली: ​कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीन की रेस में सबसे आगे कोविशील्ड वैक्सीन के ट्रायल को भारत में फिर से शुरू करने की मंजूरी दी जा सकती है. डीसीजीआई (DCGI) जल्द भारत में कोविशील्ड के ट्रायल को शुरू करने की इजाजत दे सकता है.

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने 6 सितंबर को वैक्सीन का ट्रायल रोका था लेकिन सीरम इंस्टीट्यूट ने भारत में ट्रायल को जारी रखा. 9 सितंबर को डीसीजीआई की आपत्ति के बाद सीरम इंस्टीट्यूट ने ट्रायल रोक दिया था. कोविशील्ड वैक्सीन रेस में सबसे आगे है और तीसरे चरण में है. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका इसे मिलकर बना रहे हैं. भारत से पुणे की कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया इसकी पार्टनर है.

डेटा सेफ्टी मॉनिटरिंग बॉडी की हरी झंडी का इंतजार

- Advertisement -

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया भारत में कोविशील्ड का ट्रायल फिर से ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया की मंजूरी के बाद शुरू करेगा. इस पर डीसीजीआई को डेटा सेफ्टी मॉनिटरिंग बॉडी की हरी झंडी का इंतजार है. मॉनिटरिंग बॉडी ने पूछा है कि जिस मरीज को बीमारी होने के बाद, ये ट्रायल रोके गए, उसकी डिटेल्स दें. उस मामले में क्या समाधान हुआ, वो भी बताएं. इस बॉडी ने सीरम इंस्टीट्यूट से ट्रायल में शामिल लोगों की डिटेल भी मांगी है.

ब्रिटेन में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल फिर से शुरू

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) की वैक्सीन के ट्रायल को हाल ही में एक मरीज की तबीयत खराब होने की वजह से रोका दिया गया था. हालांकि अब खबर है कि Astrazeneca ने ब्रिटेन में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल फिर से शुरू कर दिया है. कंपनी के मुताबिक ब्रिटेन की मेडिसिन हेल्थ रेगुलेटरी अथॉरिटी से मंजूरी मिलने के बाद फिर से वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो गया है. ब्रिटेन में 1 वॉलेंटियर की तबीयत बिगड़ने के बाद वैक्सीन का ट्रायल पहले ब्रिटेन और फिर दुनियाभर में रोक दिया गया था.

साइड इफेक्ट के बाद वैक्सीन का ट्रायल रोका गया

- Advertisement -

वैक्सीन को लेकर हाल ही में एक बयान आया है, जिसमें कहा गया है कि 6 सितंबर को कंपनी ने एक मरीज में साइड इफेक्ट आने के बाद वैक्सीन का ट्रायल रोक दिया था और इंडिपेंडेंट कमेटी को जांच करने को कहा था. अब ये जांच पूरी हो गई है और कंपनी को फिर से ट्रायल शुरू करने की मंजूरी मिल गई है.

रेगुलेटर का कहना है कि एक या दो मरीजों में साइड इफेक्ट आना नॉर्मल है. जानकारी के लिए बता दें कि भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) भी इस वैक्सीन के ट्रायल कर रहा है. सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया ने गुरुवार को बयान जारी कर कहा था, ‘हम स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं और भारत परीक्षण को फिलहाल स्थगित कर रहे हैं.’

- Advertisement -

अब दोबारा इसे शुरू करने की बात चल रही है. सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया मात्रा के लिहाज से दुनिया की सबसे बड़ी टीका विनिर्माण कंपनी है.

यह भी पढ़े :  पश्चिम बंगाल चुनाव: सीएम ममता ने सुवेन्दु अधकारी को दी चुनौती ; नंदीग्राम से चुनाव लड़ने की घोषणा
- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

12,573FansLike
7,044FollowersFollow
781FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

Google Chrome का नया अपडेट, जानिए गूगल क्रोम के नए अपडेट में क्या है ख़ास

Google Chrome का नया अपडेट, जानिए गूगल क्रोम के नए अपडेट में क्या है ख़ास- हमारे google क्रोम...
यह भी पढ़े :  Republic Day 2021: इतिहास, और महत्व के बारे में दिलचस्प तथ्य

TANDAV : अली अब्बास जफर और अन्य को Bombay High Court ने अग्रिम जमानत दी