Breaking News : चीन ने Arunachal Pradesh को बताया चीन का हिस्सा

चीन ने Arunachal Pradesh पर जताया दावा : भारत के अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण करने वाला चीन अब दादागिरी पर उतारू हो गया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता झाओ ल‍िज‍िन से जब इन युवकों के बारे में पूछा गया तो उसने भारतीयों के बारे में जानकारी देने की बजाय अरुणाचल प्रदेश को चीन का हिस्‍सा बता द‍िया। उन्‍होंने कहा कि भारतीय सेना के अनुरोध के बारे में उन्‍हें कोई जानकारी नहीं है।

ल‍िज‍िन ने कहा, ‘चीन ने कभी अरुणाचल प्रदेश को मान्‍यता नहीं दी है जो चीन का दक्षिणी तिब्‍बत इलाका है।’ भारतीय सेना के पीएलए को भारतीयों को छोड़ने के लिए संदेश भेजने के सवाल पर चीनी प्रवक्‍ता ने कहा कि हमारे पास अभी इस बात की कोई जानकारी नहीं है। बता दें कि अरुणाचल प्रदेश के 5 युवकों की अपहरण की जांच के लिए एक पुलिस टीम को मैकमोहन लाइन से सटे सीमावर्ती क्षेत्र में भेजा गया है। यह लाइन अपर सुबनसिरी जिले को तिब्बत से अलग करती है।

- Advertisement -

चीन की पीपल्स लिब्ररेशन आर्मी ने अगवा किया
कहा जा रहा है कि इन युवकों को चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी ने उनको अगवा किया है। गांववालों का दावा है कि ये युवक भारतीय सेना के लिए पोर्टर के रूप में काम करते थे जो दुर्गम क्षेत्रों में सामान की ढुलाई करते थे। यह भी कहा जा रहा है कि ये युवक संभवत: जंगल की ओर गए होंगे जहां से ये चीनी सेना के हत्थे चढ़े। लापता आदिवासी युवकों में से एक के भाई ने फेसबुक पर पोस्ट किया था कि चीनी सेना नाचो के पास इंटरनैशनल बॉर्डर (आईबी) से भारतीय सेना के सेरा-7 पेट्रोलिंग इलाके से भारतीय युवकों को उठा ले गई है।

यह भी पढ़े :  #BoycottTIME: TIME की बिक्री बढ़ाने PM मोदी की बदनामी?

यह जगह जिला मुख्यालय दापोर्जियो से 120 किमी दूर उत्तर की ओर है। फेसबुक पोस्ट के बाद ही जिला प्रशासन अलर्ट हुआ। नाचो गांव सेरा-7 से करीब 10 से 12 किमी दूर स्थित है, यहां के लोगों का दावा है कि लापता युवक पोर्टर के रूप में सेना से जुड़े हुए थे जो सामान की ढुलाई करते हैं और इलाके में सड़क व मोबाइल नेटवर्क न होने की वजह से वे गाइड के रूप में काम करते हैं। गांव वालों का कहना है कि गुरुवार को ये युवक सैन्यकर्मियों के साथ बॉर्डर इलाके में गए थे।

यह भी पढ़े :  जमानत पर होने के बाद भी AMU छात्र ने दिया भड़काऊ बयान, बोला- 'बाबरी दोबारा बनाएंगे'
- Advertisement -

ऐसे चढ़े चीनी सेना के हत्थे?
पूर्व मंत्री निनॉन्ग एरिंग ने कहा, ‘यहां के लोगों का सेना के लिए पोर्टर के रूप में काम करना आम बात है। उन्होंने आशंका जताई, लापता युवक आर्मी पोस्ट में सामान की ढुलाई करने के बाद जरूर जंगलों में शिकार करने या जड़ी-बूटी इकट्ठा करने गए होंगे।’ लापता युवकों की पहचान टोच सिंगकम, प्रसात रिंगलिंग, डोंगटू एबिया, तनु बाकेर और गारू डिरी के रूप में हुई है।

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

10,744FansLike
7,044FollowersFollow
568FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

MP उपचुनाव : कोरोना संक्रमित भी करेंगे मतदान, EC ने तय की नई व्यवस्था

उपचुनाव में कोरोना संक्रमित भी दे सकेंगे वोट, EC ने तय की नई व्यवस्था भोपाल: मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में...
यह भी पढ़े :  Parliament Monsoon Session: संसद में एयरक्राफ्ट (अमेंडमेंट) बिल 2020 पर बहस, कांग्रेस ने बोला हमला

Bollywood Drug News: सिमोन खंभाटा से NCB की पूछताछ जारी, समन के बावजूद नहीं पहुंची रकुल

मुंबई। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले से जु़ड़े ड्रग्स केस में बॉलीवुड के कई फिल्मी सितारे घिर गए हैं।...

कृषि बिल पर बोले कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर- निजी स्वार्थ के लिए किसानों को गुमराह कर रही कांग्रेस

नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कांग्रेस का नेतृत्व निष्प्रभावी हो गया है, यह कृषि को नहीं समझता है...

कोरोना अपडेट: अबतक 91 हजार मौत, 24 घंटे में 87 हजार ठीक, 86 हजार नए मामले आए

नई दिल्ली: भारत में पिछले छह दिनों से लगातार नए कोरोना संक्रमितों से ज्यादा ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही...

सूरत के ONGC संयंत्र में लगी भीषण आग, धमाकों की आवाज सुनकर दहल गए लोग

सूरत। गुजरात के सूरत में स्थित ओएनजीसी (Oil and Natural Gas Corporation) के  हजीरा गैस प्रसंस्करण संयंत्र में लगातार तीन धमाके होने...
x