Wednesday, December 7, 2022
Homeउत्तर प्रदेशSatta King बनने की आस लगाए बैठे सट्टा माफिया पर प्रशासन की...

Satta King बनने की आस लगाए बैठे सट्टा माफिया पर प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, 90 लाख का घर किया सील

Satta King News Update: पुलिस ने गैंगस्टर शकील का मकान और प्लॉट सील कर दिया है। दोनों की कीमत 90.65 लाख रुपये बताई गई है। पुलिस ने बताया कि शकील ने अवैध कार्यों से संपत्ति अर्जित की है।

- Advertisement -

उत्तरप्रदेश : यूपी के फिरोजाबाद जिले में जिला प्रशासन द्वारा सट्टा माफिया पर बड़ी कार्रवाई की है। शिकोहाबाद में सट्टा माफिया के घर को प्रशासन ने सील कर दिया है साथ ही गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई हुई है। यहां तीन दिन पहले प्रशासन ने नोटिस चस्पा किया था।

गैंगस्टर के आरोपी के खिलाफ 14 (1) की कार्रवाई करते हुए उसकी चल-अचल संपत्ति को कुर्क किया गया। पुलिस ने मुनादी करने के बाद आरोपी के मकान को सील कर दिया। यह कार्रवाई एसडीएम शिवध्यान पांडेय के निर्देशन में की गई। इस दौरान सीओ कमलेश कुमार और राजस्व निरीक्षक लल्लू सिंह और पुलिस फोर्स मौजूद रही। 

Satta King बनने की चाह में अर्जित की करोड़ों की संपत्ति

शिकोहाबाद नगर के रुकनपुरा निवासी शकील मास्टर कई सालों से सट्टा खिलाता था साथ ही उसके द्वारा अवैध धंधे से करोड़ों की संपत्ति जुटाई हुई थी। उसके खिलाफ करीबन एक दर्जन मुकदमे दर्ज हैं। पिछले महीनों पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा और उस पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की थी। ज्सिके चलते डीएम कोर्ट से उसकी संपत्ति जब्त किए जाने के आदेश जारी किए गए। हाईकोर्ट से जमानत पर छूटे शकील मास्टर के घर पर तीन दिन पूर्व पुलिस ने नोटिस चस्पा किया था।

तीन मंजिला घर को किया जब्त

- Advertisement -

गुरुवार को एसडीएम शिव ध्यान पांडे, सीओ कमलेश कुमार द्वारा सट्टा माफिया शकील मास्टर के तीन मंजिला घर को जब्त कर लिया है। कार्रवाई के दौरान मोहल्ले में भीड़ जुटी रही हालाँकि पुलिस फोर्स के चलते किसी तरह का विरोध नहीं हो सका। प्रशासन द्वारा सीज किए गए घर की कीमत लगभग 90.65 लाख रुपए बताई गई है साथ ही चार बाइक भी सीज की गई हैं। सीओ कमलेश कुमार ने बताया कि गैंगस्टर द्वारा कमाई गई अवैध संपत्ति जब्त की गई है।

घर में कैद एक हजार कबूतर…

सट्टा माफिया घर में कबूतर पालता था। उसके यहाँ एक हजार कबूतर पले थे। पुलिस द्वारा कबूतर के दड़बे को खोलकर उन्हें उड़ाने का प्रयास किया लेकिन वे उड़े ही नहीं। शकील ने प्रशासन से कबूतर ले जाने की अनुमति मांगी लेकिन उनके द्वारा मना कर दिया। लोगों का कहना है कि देखभाल न हो पाने के कारण कबूतरों की मौत हो सकती है। सीओ का कहना है कि घर का ऊपरी हिस्सा खुला है जिससे खुद ब खुद कबूतर उड़ जाएंगे। 

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments