About Us

खबर सत्ता (khabarsatta.com) एक न्यूज़ वेबसाइट (News Website) है, जो खबर एरीना मीडिया एंड नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड (Khabar Arena Media & Network Privatet Limited) का एक अंग है. जो दिसम्बर 2017 से ख़बरें प्रकाशित कर रहा है . खबर सत्ता न्यूज़ पोर्टल को शुभम शर्मा द्वारा 2017 में शुरू किया गया था. खबर सत्ता विभिन्न जगहों से आती ख़बरों पर नज़र रखते हुए, सामान्य रिपोर्ट्स से लेकर ओपिनियन, विश्लेषण और फ़ैक्ट चेक आदि प्रकाशित करती है।

भारत में राजनीति और मीडिया की बात करें तो इन दोनों क्षेत्रों को कुछ सबसे धूर्त लोगों ने अपनी जकड़ में क़ैद कर रखा है। लोकप्रिय नैरेटिव के नाम पर इनके एकतरफ़ा संवाद का फल पूरा समाज लगातार भुगत रहा है।

इनकी आत्ममुग्धता से अलग सोच रखनेवालों को हमेशा ही नीचा दिखाने और डिजिटल प्लेटफ़ॉर्मों पर अपने चेलों की फ़ौज छोड़कर उनकी आवाज़ को दबाने का काम ये करते रहे हैं। इसकी जड़ में समय के साथ तैयार हुई एक व्यवस्था है, जो कि एक ही तरह की सोच की उपज है जहाँ दूसरी विचारधारा को स्वयं ही गलत मान लिया जाता है। खबर सत्ता इस व्यवस्था से मुक्त होने का एक प्रयास है।

जो सच है, वो हम कहेंगे, पोलिटिकली करेक्ट होने का चोला नहीं पहनेंगे। अगर नैरेटिव पर एक ही तरह के छद्मबुद्धिजीवी क़ब्ज़ा करने की कोशिश करेंगे, तो हम उनके दोमुँहेपन का जवाब देंगे। बात बस यही है कि एकतरफ़ा संवाद और एक ही तरह की विचारधारा के दिन लद चुके हैं, क्योंकि विविधता के देश में हर विचारधारा की अपनी मुखर पहचान बनी रहनी चाहिए।

हम उसी विविधता के साथ आप तक पहुँचने की कोशिश कर रहे हैं। हमारी टीम में हर कोई पेशे से पत्रकार नहीं है, लेकिन ये वो लोग हैं जिन्हें राजनैतिक और सामाजिक मुद्दों की समझ है। हमसे कई और लोग भी जुड़े हुए हैं जो सोशल मीडिया पर अच्छा लिखते हैं और जिनकी बातों को एक बेहतर प्लेटफ़ॉर्म की ज़रूरत है।

Khabar Satta (khabarsatta.com) is a news website, which is a part of Khabar Arena Media & Network Private Limited. Which is publishing news since December 2017. Khabar Satta news portal was started in 2017 by Shubham Sharma. Khabar Satta tracks news from various sources and publishes general reports, opinions, analysis and fact checks.

If we talk about politics and media in India, both these areas have been captured by some of the most cunning people in their grip. The entire society is continuously suffering the consequences of their one-sided communication in the name of popular narrative.

Due to their narcissism, they have always been humiliating those who think differently and suppressing their voices by abandoning their army of followers on digital platforms. At its root is a system developed over time, which is the product of a single type of thinking where other ideologies are automatically considered wrong. Khabar Satta is an attempt to break free from this system.

We will say what is true and will not wear the garb of being politically correct. If the same kind of pseudo-intellectuals try to take over the narrative, we will respond to their duplicity. The point is that the days of one-way dialogue and one type of ideology are over, because in a country of diversity, every ideology should maintain its own vocal identity.

We are trying to reach you with the same diversity. Not everyone in our team is a journalist by profession, but these are people who have an understanding of political and social issues. There are many other people associated with us who write well on social media and whose words need a better platform.

Exit mobile version