Sunday, January 29, 2023
Homeटेक्नोलॉजीTesla Electric Truck : डीजल ट्रक से 3 गुना ज्यादा शक्तिशाली टेस्ला इलेक्ट्रिक...

Tesla Electric Truck : डीजल ट्रक से 3 गुना ज्यादा शक्तिशाली टेस्ला इलेक्ट्रिक ट्रक, फुल चार्जिंग के बाद 805 KM चलेगा

Tesla electric truck 3 times more powerful than diesel truck, will run 805 KM after full charging

- Advertisement -

Tesla Electric Truck : टेस्ला ने अपने इलेक्ट्रिक सेमी ट्रक की डिलीवरी शुरू कर दी है। कंपनी का दावा है कि ये ट्रक सड़क पर मौजूद किसी भी डीजल ट्रक की तुलना में 3 गुना ज्यादा शक्तिशाली है।

ट्रक 20 सेकेंड में 0-60mph (97 km/hr) की स्पीड तक पहुंच सकता है। इसकी बैटरी रेंज 500 मील (करीब 805 किलोमीटर) है। कीमत $150,000 (करीब 1.21 करोड़ रुपए) से शुरू हो सकती है।

पेप्सी को पहला Tesla Electric Truck डिलीवर

कंपनी के CEO एलन मस्क ने नेवादा के स्पार्क्स में कंपनी की गीगाफैक्ट्री में आयोजित एक कार्यक्रम में सॉफ्ट-ड्रिंक कंपनी पेप्सी को पहला ट्रक डिलीवर किया।

- Advertisement -

पेप्सी ने दिसंबर 2017 में 100 ट्रकों का ऑर्डर दिया था, जब पहली बार टेस्ला सेमी को एक इवेंट में रिवील किया गया था। अन्य हाई-प्रोफाइल ग्राहक-इन-वेटिंग में वॉलमार्ट और UPS शामिल हैं। 2019 में ट्रक की डिलीवरी होनी थी, लेकिन कोरोना के कारण देरी हुई।

Tesla Electric Truck: Tesla Electric Truck 3 times more powerful than diesel truck, will run 805 KM after full charging

फ्यूचर ऑफ ट्रकिंग

टेस्ला ने सेमी को फ्यूचर ऑफ ट्रकिंग बताया है। मस्क ने इवेंट में कहा, ‘आप उसे चलाना चाहते हैं। मेरा मतलब है, ऐसा लगता है कि यह चीज भविष्य से आई है। ये एक बीस्ट की तरह है। यह वास्तव में एक सामान्य कार चलाने जैसा है, ट्रक चलाने जैसा नहीं।’

इस ट्रक में बेहतर विजिबिलिटी के लिए यूनीक सेंट्रल सिटिंग दी गई है। दोनों तरफ एक बड़ी स्क्रीन के साथ, कपहोल्डर्स और एक वायरलेस फोन चार्जर के साथ दाईं ओर एक कंसोल दिया गया है। इसके अलावा कंपनी का दावा है कि दुर्घटना के मामले में ऑल-इलेक्ट्रिक आर्किटेक्चर रोलओवर रिस्क और केबिन इंट्रूशन दोनों को कम करता है।

ब्रेकिंग से बैटरी चार्ज

सेमी ट्रक में जैकनाइफिंग (दो भागों में बंटे बड़े ट्रक का नियंत्रण से बाहर हो जाना और अचानक खतरनाक रूप से एक ओर झुक जाना) को रोकने के लिए ट्रैक्शन कंट्रोल, बैटरी एफिशिएंसी को बढ़ाने के लिए रिजनरेटिव ब्रेकिंग (ब्रेकिंग का एक मेथड जिसमें ब्रेक लगाने पर निकली एनर्जी को स्टोर किया जाता है। यानी इससे बैटरी चार्ज होती है) और सीमलेस हाईवे ड्राइविंग के लिए एक ऑटोमेटिक क्लच है।

36.74 टन कार्गो के साथ 500 मील यात्रा

मस्क ने बताया कि 8 सेमी-ट्रकों में से एक ने 81,000 पाउंड (36.74 टन) कार्गो के साथ 500 मील की यात्रा पूरी की थी। यह यात्रा राज्य के दक्षिणी सिरे पर कैलिफोर्निया के फ्रेमोंट में टेस्ला फैक्ट्री से सैन डिएगो तक हुई। इस यात्रा में बैटरी को रिचार्ज करने की जरूरत नहीं पड़ी।

लिक्विड-कूल्ड चार्जिंग कनेक्टर डेवलप किया

मस्क ने इवेंट के दौरान ये भी खुलासा किया कि टेस्ला ने एक नया लिक्विड-कूल्ड चार्जिंग कनेक्टर डेवलप किया है जो 1 मेगावाट डायरेक्ट करंट पावर देने में सक्षम है। मस्क ने कहा, ‘यह साइबरट्रक के लिए भी इस्तेमाल होने जा रहा है।’ लोगों को लंबे समय से इस साइबरट्रक का इंतजार है जिसका प्रोडक्शन 2023 के आखिर में शुरू होने की उम्मीद है।

इलेक्ट्रिक ट्रक के सामने कई चुनौतियां

डेमलर, वोल्वो, पीटरबिल्ट और BYD जैसे प्रमुख उपकरण निर्माता भी अपने इलेक्ट्रिक लॉन्ग-होलर्स पर काम कर रहे हैं। हालांकि अभी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को व्यापक रूप से अपनाए जाने से पहले भारी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। इसके सामने वेट रेस्ट्रिक्शन से लेकर सुविधाजनक चार्जिंग स्टेशनों की उपलब्धता जैसी चुनौतियां हैं। ट्रक स्टॉप भी बड़ी बैटरी की बिजली जरूरतों को पूरा करने के लिए काफी हद तक तैयार नहीं हैं।

- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharmahttps://shubham.khabarsatta.com
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments