Home देश कोरोना वैक्सीन : आपात इस्तेमाल के तरीकों पर हो रहा विचार, टास्क फोर्स तय करेगी आपात प्रयोग के तौर...

कोरोना वैक्सीन : आपात इस्तेमाल के तरीकों पर हो रहा विचार, टास्क फोर्स तय करेगी आपात प्रयोग के तौर तरीके

नई दिल्ली। सरकार कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के नतीजे आने और नियमित लाइसेंस दिए जाने से पहले आपात स्थिति में वैक्सीन के इस्तेमाल के तौर-तरीकों पर विचार कर रही है। हाल में हुई एक बैठक में आपात प्रयोग के साथ-साथ टीके की कीमत और इसकी खरीद जैसे कई मुद्दों पर विमर्श किया गया। बैठक में नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) विनोद पॉल, सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के विजय राघवन और केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण उपस्थित रहे थे।

सूत्रों के मुताबिक, बैठक में तय किया गया कि प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा गठित वैक्सीन टास्क फोर्स (वीटीएफ) आपात स्थिति में इस्तेमाल की स्वीकृति देने के सैद्धांतिक तौर तरीके तय करेगी और नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 (एनईजीवीएसी) इसकी कीमत एवं खरीद अनुबंधों पर सिद्धांत बनाएगा।

- Advertisement -

उल्लेखनीय है कि हाल ही में अमेरिकी कंपनी फाइजर ने अमेरिकी नियामकों से अपनी वैक्सीन के आपात इस्तेमाल के अधिकार मांगे हैं। अमेरिका की ही मॉडर्ना ने भी इस संबंध में आवेदन की बात कही है। इसे देखते हुए भारत सरकार भी इस संबंध में तैयारियां तेज कर रही है। यहां अभी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के टीके का तीसरे चरण का परीक्षण कर रहा है।

वहीं, भारत बायोटेक और आइसीएमआर ने स्वदेश विकसित कोवैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण शुरू कर दिया है। जायडस कैडिला द्वारा विकसित स्वदेशी वैक्सीन ने भी दूसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल पूरा कर लिया है। डॉ. रेड्डीज लैब जल्द ही रूसी टीके स्पुतनिक-5 के भारत में दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण शुरू करेगा। सूत्रों के अनुसार, विशेषज्ञों के साथ वीटीएफ की एक बैठक बुलाई जाएगी जिसमें दुनियाभर में वैक्सीन की प्रगति की समीक्षा की जाएगी और यह विचार किया जाएगा कि इनके आपात उपयोग पर फैसला कब और कैसे लिया जाए।

- Advertisement -
यह भी पढ़े :  किसानों के समर्थन में उतरे केजरीवाल, बोले- अन्नदाताओं पर जुर्म बिल्कुल गलत

वहीं यदि अमेरिका की बात करें तो वहां अमेरिकी कंपनी रीजेरॉन फार्मास्यूटिकल्स इंडस्ट्रीज के एंटीबॉडी कॉकटेल को कोरोना के शुरुआती लक्षण वाले मरीजों पर प्रयोग के लिए देश के दवा नियामक संस्थान से आपात मंजूरी मिल गई है। इस तरह डॉक्टरों के पास मरीजों के लिए एक और थेरेपी का विकल्प उपलब्ध होने वाला है। बता दें कि इलाज के इस तरीके में दो मोनेक्लोनल एंटीबॉडी होते हैं, जो वायरस द्वारा कोशिकाओं में प्रवेश करने के लिए उपयोग किए जाने वाले स्पाइक प्रोटीन को निशाना बनाते हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भी अक्टूबर में संक्रमित होने के बाद यह दवा दी गई थी।

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,273FansLike
7,044FollowersFollow
783FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

भारत में कोरोना की वैक्सीन जनवरी तक आने की उम्मीद, ट्रायल अंतिम चरण मेंः गुलेरिया

नई दिल्ली। भारत में कोरोना की वैक्सीन को लेकर एम्स दिल्ली के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने करोड़ों लोगों को...
यह भी पढ़े :  किसान आंदोलन के बीच PM मोदी का विपक्ष पर वार, देश के सामने आ रही भ्रम फैलाने वालों की सच्चाई

अमेरिकी में स्थायी निवास और ग्रीन कार्ड में भी अब राहत

वाशिंगटन। अमेरिका में रहने वाले भारतीय पेशेवरों के लिए सीनेट ने एक प्रस्ताव पारित कर राहत भरी खबर दी है। सीनेट से सर्वसम्मति से प्रस्ताव...

हाफिज सईद के बाद जमात-उद-दावा के प्रवक्ता को पाक अदालत ने सुनाई सजा, 15 साल रहेगा जेल में

लाहौर। पाकिस्तान में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के बाद जमाद-उद-दावा के प्रवक्ता, याहया मुजाहिद को पाकिस्तान अदालत ने सजा सुनाई है। एब...

रेट्रो के सफ़र पर ले जाएगा कियारा आडवाणी की फ़िल्म ‘इंदू की जवानी’ का नया गाना, देखें वीडियो

नई दिल्ली। हिंदी सिनेमा चाहे जिस दौर में पहुंच जाए, मगर रेट्रो का सुरूर ज़हन से नहीं जाता। फ़िल्ममेकर्स किसी ना किसी बहाने दर्शकों को...

Bigg Boss 14: एजाज़ ख़ान और जैस्मिन भसीन ने एक दूसरे के कैरेक्टर पर उछाला कीचड़, बोले- ‘भाड़े का कैरेक्टर’

नई दिल्ली। टीवी एक्ट्रेस जैस्मिन भसीन जब ‘बिग बॉस 14’ में आई थीं तब दर्शकों को उनकी एक अलग पर्सनैलिटी देखने को मिली थी।...
x