Home देश जेपी नड्डा कल नवनियुक्त प्रदेश प्रभारियों के साथ बैठक करेंगे

जेपी नड्डा कल नवनियुक्त प्रदेश प्रभारियों के साथ बैठक करेंगे

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा गुरुवार (19 नवंबर) को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पार्टी के सभी नवनियुक्त प्रदेश प्रभारियों के साथ बैठक करने वाले हैं। यह बैठक 2024 के आम चुनाव की तैयारी शुरू करने के उद्देश्य से अहम मानी जा रही है। बताया गया है कि संगठन को मजबूत करने के लिए नड्डा, देश के दौरे पर जाएंगे, जहां उससे पहले सभी नवनियुक्त प्रभारियों से बैठक की जा रही है।

पिछले हफ्ते, नड्डा ने पार्टी उपाध्यक्ष राधामोहन सिंह को उत्तर प्रदेश जैसे महत्वपूर्ण राज्य की जिम्मेदारी सौंपी थी और पार्टी महासचिव सीटी रवि को तमिलनाडु, महाराष्ट्र और गोवा का प्रभार सौंपा गया। वहीं, इनके बीच ही पार्टी के कार्य आवंटन की घोषणा की गई। भाजपा प्रमुख ने सितंबर में पदाधिकारियों के नामों की घोषणा की थी।

- Advertisement -

पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पश्चिम बंगाल के प्रभारी बने रहेंगे जहां अगले साल की पहली छमाही में चुनाव होने हैं और भाजपा सत्ता में आने के लिए दृढ़ संकल्पित है। उनकी मदद अरविंद मेनन और अमित मालवीय करेंगे, जो भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख हैं। प्रधान उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा दिल्ली और असम के प्रभारी होंगे। दुष्यंत कुमार गौतम को प्रभारी और रेखा वर्मा को उत्तराखंड का सह प्रभारी बनाया गया है। गौतम पंजाब और चंडीगढ़ के प्रभारी भी होंगे।

राम माधव की जगह तरुण चुग को जम्मू और कश्मीर की जिम्मेदारी दी गई है। वह लद्दाख और तेलंगाना के प्रभारी भी होंगे। भूपेंद्र यादव गुजरात के अलावा बिहार के प्रभारी बने रहेंगे और पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा को मणिपुर की जिम्मेदारी दी गई है। पार्टी नेता डी पुरंदेश्वरी ओडिशा और छत्तीसगढ़ के प्रभारी होंगे और राजस्थान और कर्नाटक के अरुण सिंह। पी मुरलीधर राव मध्य प्रदेश के प्रभारी होंगे और उनकी सहायता पंकजा मुंडे और बिशेश्वर टुडू करेंगे। दिलीप सैकिया अरुणाचल प्रदेश और झारखंड के प्रभारी होंगे। सीपी राधाकृष्णन को केरल की जिम्मेदारी दी गई है और हिमाचल प्रदेश के अविनाश राय खन्ना को। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन आंध्र प्रदेश के प्रभारी बने रहेंगे और सुनील देवधर की मदद करेंगे।

यह भी पढ़े :  सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, CBI जांच के लिए अब राज्य की सहमति लेनी जरूरी
- Advertisement -
यह भी पढ़े :  SC-ST समुदाय से लोगों के बाल काटने नाई को पड़े भारी, यातना से लेकर बहिष्कार तक अब ऐसी हुई हालत

नलिन कोहली को नागालैंड, त्रिपुरा के विनोद सोनकर, लक्षद्वीप के अब्दुल्ला कुट्टी, दमन, दीव और दादरा नगर हवेली के विजया रहाटकर, मिजोरम के म्म्होनलुमो किकोन, मेघालय के एम चुबा एओ, सुकांत मजूमदार को सिक्किम की और अंडमान और निकोबार के सत्य कुमार प्रभारी बनाए गए।

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,261FansLike
7,044FollowersFollow
786FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण संबंधी कानून आज से लागू, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने दी मंजूरी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश 2020 लागू हो गया है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने...
यह भी पढ़े :  सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, CBI जांच के लिए अब राज्य की सहमति लेनी जरूरी

राज्यों सरकारों से सुप्रीम कोर्ट नाराज, कहा- राजनीति से ऊपर उठकर कोविड-19 को करो काबू

देश में कोरोना के लगातार बिगड़ रहे हालात को लेकर  उच्चतम न्यायालय ने राज्य सरकारों का फटकार लगाई। कोर्ट ने कहा क कोविड-19 के...

PM मोदी के अहंकार ने जवान और किसान को आमने सामने खड़ा कर दिया: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों को दिल्ली आने से रोकने के लिए सैनिकों के इस्तेमाल की आलोचना करते हुए कहा है...

CM शिवराज के निर्देश के बाद ईरानियों के अवैध कब्जे पर चला बुल्डोजर, भारी पुलिस बल तैनात

भोपाल: भोपाल में ईरानियों के अवैध कब्जे पर आज जिला प्रशासन की टीम बड़ी कार्रवाई कर रही है। इसके मद्देनजर पुलिस की टीम ने...

सरकार की सख्ती पर भड़के किसान, जैजी बी और दिलजीत ने ‘वाहेगुरु’ के आगे की अरदास

जालंधर: केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ 'दिल्ली चलो' मार्च के तहत किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच दिल्ली सरकार ने...
x