Home देश चुनाव पर कोरोना का असर: सरकार ने 10 प्रतिशत तक बढ़ाई उम्मीदवारों के खर्च करने की सीमा

चुनाव पर कोरोना का असर: सरकार ने 10 प्रतिशत तक बढ़ाई उम्मीदवारों के खर्च करने की सीमा

नई दिल्ली। लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के लिए चुनाव खर्च की सीमा को चुनाव आयोग की सिफारिश के आधार पर 10 प्रतिशत तक बढ़ाया गया है। जिससे प्रतियोगियों को COVID-19 के कारण आने वाली कठिनाइयों को ध्यान में रखते हुए चुनाव प्रचार पर अधिक खर्च करने की अनुमति दी जाए।

खर्च सीमा में बढ़ोतरी से बिहार विधानसभा चुनाव के साथ-साथ एक लोकसभा और 59 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों को मदद मिलेगी। एक महीने पहले, चुनाव आयोग ने COVID-19 महामारी के दौरान होने वाले सभी चुनावों के लिए खर्च में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी की सिफारिश की थी। पदयात्रा के दौरान रैलियों को आयोजित करने सहित उन प्रतिबंधों के बीच प्रत्याशियों को चुनाव प्रचार में आने वाली कठिनाइयों को ध्यान में रखते हुए बढ़ोतरी की सिफारिश की गई थी।

- Advertisement -

कानून मंत्रालय द्वारा सोमवार रात जारी अधिसूचना में कहा गया है कि एक उम्मीदवार को लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए अधिकतम खर्च अब 77 लाख रुपये हो सकता है। यह अब तक 70 लाख रुपये था। विधानसभाओं के लिए इसे 28 लाख रुपये से बढ़ाकर 30.8 लाख रुपये कर दिया गया है।

उम्मीदवारों को उनके प्रचार के लिए खर्च करने की अधिकतम सीमा सीमा राज्य-दर-राज्य बदलती रहती है। चुनाव नियमों के आचरण में संशोधन करने वाली अधिसूचना में यह उल्लेख नहीं किया गया है कि सीमा को महामारी को ध्यान में रखते हुए बढ़ाया गया है और क्या यह COVID -19 के बीच होने वाले चुनावों तक सीमित है।

- Advertisement -
यह भी पढ़े :  जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय ने मसरत आलम भट को रिहा करने का आदेश दिया

संशोधित नियमों में, अधिसूचना में कहा गया है कि आधिकारिक राजपत्र में उनके प्रकाशन की तारीख को लागू होगा और केंद्र सरकार द्वारा अधिसूचित किए जाने तक ऐसी तिथि तक लागू रहेगी। ईसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एक कारण के लिए अधिकतम व्यय सीमा बढ़ा दी गई थी। लेकिन अधिसूचना में कारण का उल्लेख नहीं किया गया है

यह भी पढ़े :  10 जनपथ के चाणक्‍य अहमद पटेल का कोरोना से निधन, कांग्रेसियों के लिए थे हर मर्ज की दवा

आखिरी बार खर्च की सीमा को बढ़ाया गया था 2014 में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले। बिहार में विधानसभा चुनाव 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को होंगे। विधानसभा के अधिकांश उपचुनाव 3 नवंबर को होंगे। बिहार में वाल्मीकि नगर लोकसभा सीट और मणिपुर की कुछ विधानसभा सीटों पर उपचुनाव 7 नवंबर को होंगे।

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,262FansLike
7,044FollowersFollow
786FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण संबंधी कानून आज से लागू, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने दी मंजूरी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश 2020 लागू हो गया है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने...
यह भी पढ़े :  सीरम का एस्ट्राजेनेका से वैक्‍सीन की 10 करोड़ डोज का समझौता

राज्यों सरकारों से सुप्रीम कोर्ट नाराज, कहा- राजनीति से ऊपर उठकर कोविड-19 को करो काबू

देश में कोरोना के लगातार बिगड़ रहे हालात को लेकर  उच्चतम न्यायालय ने राज्य सरकारों का फटकार लगाई। कोर्ट ने कहा क कोविड-19 के...

PM मोदी के अहंकार ने जवान और किसान को आमने सामने खड़ा कर दिया: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों को दिल्ली आने से रोकने के लिए सैनिकों के इस्तेमाल की आलोचना करते हुए कहा है...

CM शिवराज के निर्देश के बाद ईरानियों के अवैध कब्जे पर चला बुल्डोजर, भारी पुलिस बल तैनात

भोपाल: भोपाल में ईरानियों के अवैध कब्जे पर आज जिला प्रशासन की टीम बड़ी कार्रवाई कर रही है। इसके मद्देनजर पुलिस की टीम ने...

सरकार की सख्ती पर भड़के किसान, जैजी बी और दिलजीत ने ‘वाहेगुरु’ के आगे की अरदास

जालंधर: केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ 'दिल्ली चलो' मार्च के तहत किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच दिल्ली सरकार ने...
x