मानव शरीर में सबसे मजबूत हड्डी कौनसी होती है ? GK IN HINDI

0
449

हमें इतना सुंदर शरीर हड्डियों के एक ढांचे की बदौलत मिला है। वैज्ञानिक भाषा में इसे कंकाल या अंग्रेजी में स्क लेटन कहा जाता है। आज हम आपको हड्डियों के बारे में कुछ ऐसे बेहद दिलचस्प रोचक तथ्य बताएंगे जिनके बारे में शायद आपको पहले जानकारी नहीं होगी।

हड्डियां कैल्शियमफास्फोरससोडियम और अन्य खनिजों तथा प्रोटीन कोलेजन के रूप में बनी होती है। हड्डियां कैल्शियम और आयरन को स्टोर करती हैं और इसकी आपूर्ति शरीर को करती रहती है।

एक वयस्क व्यक्ति के शरीर में 206 हड्डियां होती है जबकि एक बच्चे के शरीर में 300 हड्डियां होती है। जैसे जैसे बच्चेय की उम्र बढ़ती जाती हैवैसे वैसे उनमें से कुछ हड्डियां गल जाती हैं और कुछ हड्डियां आपस में मिल जाती है।

हड्डियों का वजन हमारे शरीर के वजन का लगभग 15 प्रतिशत होता है। ये लगभग 31 प्रतिशत पानी और बाकी ठोस पदार्थ से मिलकर बनती है। ज्यादातर हड्डियां बीच से खोखली होती है। हड्डियों के बीच में एक जैली होती हैजिसे बोनमैरो कहा जाता है।

शरीर की कुल 206 हड्डियों में से आधी से ज्यादा हड्डियां तो सिर्फ हाथ और पैरों में होती है। हाथ में 27 और पैर में 26 हड्डियां होती है।

मनुष्य की जांघों की हड्डियां कंक्रीट से भी ज्यादा मजबूत होती है। फीमर या जांघ की हड्डी शरीर की सबसे लम्बी और मजबूत हड्डी है। शरीर में सबसे छोटी और हल्की हड्डी कान के अंदर मौजूद स्टेपीज 0.28 सेंटीमीटर लंबी होती है। खोपड़ी एक तरह का सुरक्षा बॉक्स हैजिसमें ब्रेन सुरक्षित रहता है। यह 28 हड्डियों से बनता है। खोपड़ी की सभी हड्डियां आपस में जुड़ी होती हैं।

बैकबोन या रीढ़ की हड्डी खड़ा होने और बैलेंस बनाए रखने में मदद करती है। यह छोटी-छोटी 33 हड्डियों से मिलकर बनती है। चेस्ट की 24 पसलियां (रिब्जि) हार्टलंग्स जैसे अंगों के चारों ओर ढाल बनकर रक्षा करती है। चेस्ट की पसलियां आगे से ब्रेस्टबोन से जुड़ी होती हैं और पीछे से स्पाइनल कोर्ड बैकबोन से जुड़ी होती है।

मानव शरीर में जबड़े की हड्डी बहुत मजबूत होती है। यह लगभग 280 किलो वजन सहन कर सकती है। दुर्घटनाओं में भी आमतौर पर जबड़े की हड्डी सबसे कम टूटती है। गर्दन में 7 हड्डियां होती है। मानव शरीर में गले की हाइयोड नाम की वी के आकार की अकेली ऐसी हड्डी हैजो किसी दूसरी हड्डी से जुड़ी हुई नहीं होती है।

आॅस्टियोपोरोसिस हड्डियों की एक आम बीमारी है और इससे हड्डियों की संख्या में कमी होने लगती है। हड्डियों के कमजोर होने से उनमें फ्रैक्चर जल्दी हो सकता है। स्टील की तुलना में हड्डियां 5 गुना ज्यादा मजबूत होती है। पैर की अंगुली की हड्डी काफी कमजोर होती है। ये मामूली चोट से भी टूट सकती है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.